• शुक्रवार , 20:09:2019
  • Contact
  • लखनऊ, 27 o C
logo
logo
मारुति के चेयरमैन ने बताई थी यह वजह
Blog single photo

नई दिल्ली: ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पर बीएस6 और लोगों की सोच में आये बदलाव का असर पड़ रहा है, लोग अब गाड़ी खरीदने की बजाय ओला या उबर जैसी कैब सर्विस को तरजीह दे रहे हैं। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने पर मंगलवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पत्रकारों से बातचीत के क्रम में यह बात कही। निर्मला सीतारमण ने वाहन क्षेत्र में मंदी के कारणों में ओला और उबर जैसी कैब सर्विस को भी जिम्मेदार ठहराते हुए कहा, दो साल पहले तक वाहन उद्योग के लिए अच्छा समय था। निश्चित रूप से उस समय वाहन क्षेत्र के उच्च वृद्धि का दौर था।

साथ ही सीतारमण ने कहा कि ऑटोमोबाइल क्षेत्र कई चीजों से प्रभावित है जिसमें भारत चरण-6 मानक, पंजीकरण संबंधित बातें और लोगों की सोच में बदलाव शामिल हैं। उन्होंने कहा कि कुछ अध्ययन बताते हैं कि गाड़ियों को लेकर युवाओं की सोच बदली है. वे स्वयं का वाहन खरीदकर मासिक किस्त देने के बजाय ओला, उबर या मेट्रो सेवाओं को पसंद कर रहे हैं।

मारुति के चेयरमैन ने बताई थी यह वजह

मारुति के चेयरमैन आरसी भार्गव ने इस बात से इनकार किया था कि ओला, ऊबर की वजह से कारों की बिक्री पर प्रभाव पड़ा है। उन्होंने इसके लिए सरकार की नीतियों को भी जिम्मेदार ठहराया। भार्गव ने बताया कि पेट्रोल-डीजल की ऊंची टैक्स दर और रोड टैक्स की वजह से भी लोग कार खरीदने से कतराने लगे हैं। हालांकि उन्होंने कहा कि जीएसटी की कटौती से इसमें कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। वहीं इंडस्ट्री इस सुस्ती से निपटने के लिए जीएसटी कट की मांग कर रही है। मारुति के चेयरमैन ने कहा कि कारों में एयरबैग्स और एबीएस जैसे सेफ्टी फीचर्स जोड़ने की वजह से कीमतें बढ़ गईं और कार दुपहिया वाहन चलाने वालों की पहुंच से दूर हो गई। भार्गव ने कहा था कि ओला, ऊबर इसके लिए जिम्मेदार नहीं हैं बल्कि सख्त सेफ्टी व एमिशन नियम, बीमा की ज्यादा लागत औऱ अतिरिक्त रोड टैक्स इसे प्रभावित कर रहा है।

वित्त मंत्री ने ओला, ऊबर को भी ऑटो सेक्टर की मंदी के लिए जिम्मेदार ठहराया। सीतारमन ने रजिस्ट्री फीस का महंगा होना भी इसकी वजह बताई है जो आरसी भार्गव से भी मेल खाती है। बता दें कि लगातार 10वें महीने अगस्त में भी कारों की बिक्री में कमी आई है। लगभग सभी कंपिनियों की बड़ी गाड़ियों की बिक्री कम होती जा रही है।

हाल की टिप्पणियां

टिप्पणियां दें

2500
footer
Top