• शुक्रवार , 20:09:2019
  • Contact
  • लखनऊ, 27 o C
logo
logo
मीडिया से हुई रूबरू, कहा- एक साल से कर रहे थे शोषण
Blog single photo

शाहजहांपुर। पूर्व केंद्रीय गृहराज्यमंत्री व मुमुक्षु आश्रम के अधिष्ठाता स्वामी चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली लॉ कालेज की छात्रा सोमवार को मीडिया के सामने रूबरू हुई और सीधे स्वामी के विरु द्ध बलात्कार का मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। पीड़िता ने आरोप लगाया कि उसे वाकई यूपी पुलिस पर भरोसा नहीं है। एसआईटी ने रविवार को करीब 11 घंटे तक उससे पूछताछ की थी। उसने दावा किया कि उसने अपने साथ दुष्कर्म की रिपोर्ट दिल्ली के कड़कड़डूमा थाने में जीरो क्राइम नंबर पर दर्ज करायी है दिल्ली पुलिस ने यह एफआईआर शाहजहांपुर भेज दी है, मगर स्थानीय पुलिस दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है।

पीड़िता ने यह भी दावा किया कि उसके पास स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ यौन उत्पीड़न करने के सारे सुबूत मौजूद है जिन्हें वह कोर्ट में पेश करेगी। पीड़िता ने कहा कि उसने स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ आरपार की लड़ाई करने का फैसला कर लिया है। इस मौके पर पीड़िता के पिता ने भी कहा कि शासन प्रशासन स्वामी चिन्मयानंद के दवाब में काम कर रहा है। उसका यह भी कहना है कि वह पिछले एक साल से उसका यौन शोषण कर रहे थे। धमकी के बाद ही प्रदेश छोड़ कर दिल्ली और राजस्थान में शरण ली थी।

पीड़िता ने शाहजहांपुर के जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह पर भी परिवार को धमकी देने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने मांग की है कि डीएम को तत्काल सस्पेंड किया जाए। यहां बता दें कि पीड़िता ने एक वीडियो वायरल करके स्वामी चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाया था कि जिसके बाद पीड़िता के पिता ने स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। इससे पहले स्वामी चिन्मयानंद की तरफ से उनके वकील ओम सिंह ने भी अज्ञात लोगों के खिलाफ पांच करोड़ की रंगदारी का मुकदमा दर्ज कराया था। चिन्मयानंद के खिलाफ रेप का मुकदमा दर्ज करने से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

हाल की टिप्पणियां

टिप्पणियां दें

2500
footer
Top