• शनिवार , 17:08:2019
  • Contact
  • लखनऊ, 27 o C
logo
logo
एक-दूसरे के धुर विरोधी उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती को आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पिछले हफ्ते हरि निवास महल में हिरासत में रखा गया था
Blog single photo

नई दिल्ली: एक-दूसरे के धुर विरोधी उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती को आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पिछले हफ्ते हरि निवास महल में हिरासत में रखा गया था। अधिकारियों ने बताया है कि इस दौरान दोनों के बीच विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि उन्हें अलग करना पड़ा। दरअसल, दोनों एक-दूसरे पर राज्य में भारतीय जनता पार्टी को लाने का आरोप मढ़ रहे थे।

राजनैतिक तौर पर धुर विरोधी उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती को अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से केन्द्र सरकार के आदेश के बाद हरि निवास महल में हिरासत में रखा गया था। हालांकि यहां पर उन्हें सभी तरह की सहूलियतें दी जा रही हैं। लेकिन हिरासत में दोनों नेता एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं।

महबूबा इसके लिए उमर अब्दुल्ला के दादा पर आरोप लगा रही हैं तो उमर महबूबा से राज्य में भाजपा के साथ सरकार बनाने के लिए उसे जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। वहां पर मौजूद पुलिस अफसरों के मुताबिक हिरासत के दौरान ही दोनों नेताओं के बीच विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि उन्हें अलग करना पड़ा। वहां पर मौजूद के मुताबिक महबूबा ने नेशनल कॉन्फ्रेंस उपाध्यक्ष उमर को जमकर जवाब दिए।

वहीं उमर ने महबूबा के पिता दिवंगत पिता मुफ्ती मोहम्मद सईद पर भाजपा के साथ राज्य में दो बार गठबंधन बनाने का ताना मारा और कहा इसके बाद से राज्य में भाजपा की ताकत बढ़ी है तों महबूबा ने कश्मीर की समस्याओं के लिए उमर के दादा पर आरोप लगाए।

वहीं महबूबा ने उमर से कहा कि उनके पिता भी एनडीए गठबंधन सरकार में अटल बिहारी वाजपेयी के मंत्री रह चुके हैं। महबूबा ने उमर के दादा शेख अब्दुल्ला को भी 1947 में जम्मू-कश्मीर के भारत में विलय के लिए जिम्मेदार ठहरा दिया।

जब दोनों में जुबानी लड़ाई चरम पर पहुंच गई तो दोनों नेताओं को अलग अलग रखने का फैसला किया गया। इसके बाद उमर को महादेव पहाड़ी के पास चेश्माशाही में वन विभाग के भवन में रखा गया है जबकि महबूबा हरि निवास महल में ही हैं। जानकारी के मुताबिक दोनों नेताओं के बीच झगड़े से पहले उमर हरि निवास की नीचे के तल पर थे जबकि महबूबा पहली मंजिल पर हिरासत में रखी गई थी।

दोनों नेताओं पर लागू हैं जेल के नियम

हिरासत में लिए दोनों नेताओं को जेल के नियमों के तहत की रखा गया है। बस अंतर ये है कि जेल में उन्हें अन्य कैदियों के साथ रखा जाता जबकि यहां पर दोनों को कई तरह की सुविधाएं देकर हिरासत में रखा गया है।

हाल की टिप्पणियां

टिप्पणियां दें

2500
footer
Top