• शुक्रवार , 20:09:2019
  • Contact
  • लखनऊ, 27 o C
logo
logo
Blog single photo

द मास्को: अफगानिस्तान में जारी संघर्ष को समाप्त करने के लिए अमेरिका और तालिबान के बीच चल रही शांति वार्ता की नौंवे दौर की बैठक समाप्त हो गई है। अफगानिस्तान में सुलह के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि जलमाय खलीलजाद ने रविवार को बैठक के खत्म होने की घोषणा की। उन्होंने बताया कि दोनों पक्षों के बीच जल्द ही एक समझौता होने की उम्मीद है।

अफगानिस्तान से विदेशी सैनिकों की वापसी पर र्चचा करने के लिए अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल और तालिबान के बीच कतर की राजधानी दोहा में 22 अगस्त से नए दौर की बातचीत शुरू हुई थी। खलीलजाद ने ट्वीट किया, ‘‘दोहा में हमारी तालिबान के साथ इस दौर की बातचीत खत्म हो गई है। मैं सलाह मशविरा करने के लिए आज काबुल जाऊंगा।’ उन्होंने कहा कि अमेरिका और तालिबान अफगानिस्तान के मुद्दे पर समझौते को लेकर काफी करीब पहुंच गए हैं।

अमेरिकी प्रतिनिधि ने कहा, समझौते के तहत अफगानिस्तान में हिंसा में कमी लाने के लिए काम किया जाएगा और वहां शांति स्थापित करने के प्रयास होंगे। अफगानिस्तान को पूरी तरह से संप्रभु बनाया जाएगा जिससे अमेरिका और उसके सहयोगियों को खतरा उत्पन्न न हो।इससे पहले एरियाना न्यूज चैनल ने सूत्रों के हवाले से अपनी रिपोर्ट में बताया कि दोनों पक्षों के बीच 11 सूत्रीय एक समझौते को लेकर सहमति बन गई है।

समझौते का अंतिम मसौदा तैयार होने के बाद उस पर अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और तालिबान राजनीतिक कार्यालय के प्रमुख मुल्ला बारादर हस्ताक्षर करेंगे। अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बदले तालिबान के खिलाफ अभियानों को रोकने को लेकर दोनों पक्षों के बीच शांति समझौता होने की उम्मीद है।

हाल की टिप्पणियां

टिप्पणियां दें

2500
footer
Top